Yeh Sham Mastani Lyrics

Yeh Sham Mastani Lyrics - Kati Patang (1970)
Yeh Sham Mastani Lyrics is written by Anand Bakshi and the song is composed  by Rahul Dev Burman. The song is sung by Kishore Kumar. The song is from the the movie Kati Patang (1970). The song is featuring Rajesh Khanna and Asha Parekh.
Yeh Sham Mastani Lyrics
Yeh Sham Mastani Lyrics - Kati Patang (1970)

Song Details :
Song Name : Yeh Sham Mastani
Movie Name : Kati Patang (1970)
Singer : Kishore Kumar
Music Director : Rahul Dev Burman
Lyricist : Anand Bakshi
Starring : Rajesh Khanna, Asha Parekh

Yeh Sham Mastani Lyrics - Kati Patang (1970)

Lyrics in English

ye sham mastaani, madahosh kiye jaye
mujhe dor koi khiche, teri or liye jaye
ye sham mastaani, madahosh kiye jaye
mujhe dor koi khiche, teri or liye jaye

dur rahati hai tu, mere paas aati nahi
hotho pe tere, kabhi pyaas aati nahi
aisaa lage, jaise ki tu, hansake zahar koi piye jaye
ye sham mastaani, madahosh kiye jaye
mujhe dor koi khiche, teri or liye jaye

baat jab mai karun, mujhe rok deti hai kyo
teri mithi nazar, mujhe tok deti hai kyo
teri hayaa, teri sharam, teri qasam mere hoth siye jaye
ye sham mastaani, madahosh kiye jaye
mujhe dor koi khiche, teri or liye jaye

ek ruthi hui, taqadir jaise koi
khaamosh aise hai tu, tasvir jaise koi
teri nazar, banake zubaan, lekin tere paigaam diye jaye
ye sham mastaani, madahosh kiye jaye
mujhe dor koi khiche, teri or liye jaye
ye sham mastaani, madahosh kiye jaye
mujhe dor koi khiche, teri or liye jaye

Yeh Sham Mastani Lyrics - Kati Patang (1970)

Lyrics in Hindi

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए
ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए
दूर रहती हैं तू
मेरे पास आती नहीं
होठों पे तेरे
कभी प्यास आती नहीं
ऐसा लगे जैसे के तू
हँस के जहर कोई पिए जाए
ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए
बात जब मैं करू
मुझे रोक लेती हैं क्यों
तेरी मीठी नजर
मुझे टोक देती हैं क्यों
तेरी हया, तेरी शर्म
तेरी कसम मेरे होठ सिये जाए
ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए
एक रूठी हुयी
तकदीर जैसे कोई
खामोश ऐसे हैं तू
तसवीर जैसे कोई
तेरी नजर, बन के जुबान
लेकिन तेरे पैगाम दिए जाए
ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए
Yeh Sham Mastani Lyrics - Kati Patang (1970)
Lyrics with English Translation
The Evening is moody
ये शाम मस्तानी

Be drunk
मदहोश किये जाए

Pull me to the door
मुझे डोर कोई खींचे

Take you more
तेरी और लिए जाए
Yeh sham mastani
ये शाम मस्तानी

Be drunk
मदहोश किये जाए

Pull me to the door
मुझे डोर कोई खींचे

Take you more
तेरी और लिए जाए
You stay away
दूर रहती हैं तू

Don't come to me
मेरे पास आती नहीं

On your lips
होठों पे तेरे

Never thirst
कभी प्यास आती नहीं

Feel like you
ऐसा लगे जैसे के तू

Laughing poison should be drunk
हँस के जहर कोई पिए जाए
Yeh sham mastani
ये शाम मस्तानी

Be drunk
मदहोश किये जाए

Pull me to the door
मुझे डोर कोई खींचे

Take you more
तेरी और लिए जाए
When i talk
बात जब मैं करू

Why hold me
मुझे रोक लेती हैं क्यों

Your sweet eye
तेरी मीठी नजर

Why do you interrupt me
मुझे टोक देती हैं क्यों

Your hair, your shame
तेरी हया, तेरी शर्म

I swear on you my lips
तेरी कसम मेरे होठ सिये जाए
Yeh sham mastani
ये शाम मस्तानी

Be drunk
मदहोश किये जाए

Pull me to the door
मुझे डोर कोई खींचे

Take you more
तेरी और लिए जाए
There is a furor
एक रूठी हुयी

Someone like luck
तकदीर जैसे कोई

You are silent
खामोश ऐसे हैं तू

Someone like a picture
तसवीर जैसे कोई

Your eyes, Bun's tongue
तेरी नजर, बन के जुबान

But may your message be given
लेकिन तेरे पैगाम दिए जाए
Yeh sham mastani
ये शाम मस्तानी

Be drunk
मदहोश किये जाए

Pull me to the door
मुझे डोर कोई खींचे

Take you more
तेरी और लिए जाए
Yeh sham mastani
ये शाम मस्तानी

Post a Comment

0 Comments